आमजन कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करें अन्यथा स्थिति और भयावह होगी: अशोक गहलोत

देश में घातक सिद्ध होती कोरोना की दूसरी लहर के मद्देनजर आज राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लोगों से सरकार द्वारा निर्धारित कोरोना गाइडलाइन के पालन की अपील की है। श्री गहलोत ने इस बारे में अपने आधिकारिक फेसबुक पेज पर जारी बयान में लिखा है- “जब कोरोना की पहली वेव आई थी, तब आक्सीजन बेड, ICU और वेंटिलेटर खाली पडे़ रहे थे, लेकिन यह दूसरी लहर बेहद खतरनाक है, जिसमें अधिकांश लोगों को ऑक्सीजन, ICU और वेंटिलेटर की आवश्यकता पड़ रही है।

राष्ट्रीय एवं विश्वस्तर पर अन्तराष्ट्रीय विशेषज्ञ कह रहे हैं कि सरकारें कितनी ही सुविधाएं बढ़ा लें, कोरोना की रफ्तार चार गुना है। मरीजों के लिए ऑक्सीजन एवं दवाईयों की कमी बनी रहेगी। हम संक्रमितों की चैन तोड़ने के लिए पूरी ताकत झोंक कर एवं आमजन के कोरोना प्रोटोकॉल की सख्ती से पालना करने से ही सम्भव होगा जिससे अविलम्ब संख्या में ब्रेक लगेगा अन्यथा स्थिति और भयावह बन सकती है।”

बताते चले कि कोरोना की दूसरी लहर में कोरोना संक्रमितों और मृत्यु के आंकड़े में रिकॉर्ड बढ़ोत्तरी के बावजूद अभी भी बहुत से लोग खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना गाइड लाइन के पालन को लेकर गंभीर नहीं है।

Exit mobile version