झारखण्ड में न्यूनतम मनरेगा मजदूरी बढ़कर 225 ₹ हुई, सोरेन सरकार ने दी वृद्धि को मंजूरी

झारखण्ड सरकार ने मनरेगा श्रमिकों के हित में बड़ा कदम उठाते हुए आगामी वित्तीय वर्ष से मनरेगा श्रमिकों की न्यूनतम मजदूरी दर को 194 रुपये से बढ़ाकर 225 रूपये प्रति मानव दिवस करने का निर्णय लिया है। अब मनरेगा के तहत कार्य करने वाले श्रमिकों को 194 की जगह 225 रुपये मिलेंगे। ध्यातव्य है कि मनरेगा में बेहतर काम करते हुए झारखण्ड ने पहले ही पूर्व के सारे मानव दिवस के लक्ष्य को प्राप्त किया है। साथ ही मनरेगा योजना प्रारम्भ होने के पश्चात पहली बार झारखण्ड में आठ करोड़ मानव दिवस सृजन का लक्ष्य को पुनरीक्षित करते हुए 11.50 करोड़ मानव दिवस किया गया है। जिसमें से अब तक 10 करोड़ 11 लाख मानव दिवस का सृजन किया जा चुका है। राज्य सरकार ने जल संरक्षण के क्षेत्र में ‘नीलाम्बर-पीताम्बर जल समृद्धि योजना’ के तहत अब तक लगभग 2 लाख हेक्टेयर जमीन पर ट्रेंच एवं मेड़बंदी का काम पूरा कर लिया है। इसके अतिरिक्त बिरसा हरित ग्राम योजना के जरिये 26 हजार एकड़ भूमि में फलदार पौधे लगाये जा चुके हैं।

 

हमसे जुड़ें

501FansLike
5FollowersFollow

ताजातरीन

सम्बंधित ख़बर